Wheat:गेहूं में कल्लों की संख्या कैसे बढ़ाएं। गेहूं में कल्लें बढ़ाने के 8 आसान उपाय,जानें

भारत में भिन्न-भिन्न प्रकार की फैसले उगाई जाती हैं।गेहूं में कल्लों की संख्या कैसे बढ़ाएं किंतु रबी सीजन की सर्वाधिक बिजाई की जाने वाली फसल गेहूं को एक बहुत बड़े पैमाने पर उगाया जाता है। गेहूं की फसल से किसान अच्छी पैदावार लेने के लिए। गेहूं में कल्ले बढ़ाने के लिए नई-नई फिर तकनीक एवं दवाइयां का प्रयोग अपनी फसल में कर रहे हैं तो किसान भाइयों आज के इस लेख के माध्यम से हम आपको गेहूं में अधिक कल्ले बढ़ाने के के कुछ नुस्खे एवं दवाइयां के बारे में बताएंगे तो आईए जानते हैं

Wheat:गेहूं में कल्लों की संख्या कैसे बढ़ाएं। गेहूं में कल्लें बढ़ाने के 8 आसान उपाय,जानें
Wheat:गेहूं में कल्लों की संख्या कैसे बढ़ाएं। गेहूं में कल्लें बढ़ाने के 8 आसान उपाय,जानें

गेहूं में अधिक कल बढ़ाने के लिए कुछ मुख्य तरीके एवं बिंदु दिए गए हैं

1.सही बीज का चयन

  • किसान अच्छे उत्पादन के लिए अच्छे गुणवत्ता वाले बीजों का चुनाव करें।
  • फसल की बिजाई करने से पहले सरकारी बीज भंडार एवं प्रमाणित बीज डीलर से ही बीजों की खरीदारी करें

2. उचित उर्वरक

  • किसानों को अच्छी फसल प्राप्ति के लिए सही उर्वरकों का समुपदेशन करें ताकि पौधों की सही मात्रा में पोषण मिले।
  • किसान अपनी फसल में जीवाणु उर्वरकों और गली हुई गोबर की खाद करो का प्रयोग

3. भूमि का सही पूर्व उपचार

  • किसान भाई फसल की बिजाई करने से पहले भूमि की सही ढंग से तैयारी करें और उचित करो का प्रयोग जरूर करें।
  • फैशन बुआई के बाद भी किसान उपचार करें जैसे की जलसंचार तंतु जैव उपचार और अन्य उपचार।

4. सही समय पर सिंचाई

  • फसल की अच्छी प्राप्ति के लिए सही समय पर सिंचाई करें और सही मात्रा में पानी प्रदान करें।
  • किसान फसल की बुवाई के बाद पौधों को सही समय पर सिंचाई देना भी आवश्यक होता है।

5.बीमारियों एवं कीट प्रबंधन उपचार

  • गेहूं की खेती को नियमित रूप से सही समय पर जांच और यदि कोई प्रदूषण है तो इसका उपचार करें।
  • पौधों की सुरक्षा के लिए प्राकृतिक कीटनाशकों का चयन करें

6.बीजों की सही ढंग से बजाई करना

  • किसान भाई अपनी फसल की बिजाई से पहले बीजों को सही दिशा में बोलना चाहिए ताकि पौधे सही रूप से विकसित हो सके।

7.सही एवं बुआई तकनीक

  • गेहूं की फसल की बुवाई के दौरान बीजों को सही गहराई और ताकत से बोना चाहिए।

8. सही समय पर रोगों कि  पहचान एवं उपचार

  • गेहूं की प्रमुख बीमारियों की पहचान और उनका समय पर इलाज करें।

बताए गए इस त्रिकोण का अनुसरण करके किसान गेहूं के पौधों की सही विकास को सुनिश्चित कर सकते हैं और अपनी गेहूं की फसल में कल्लों की वृद्धि में मदद कर सकता है।

Leave a Comment